Thursday 28 May 2009

अन्ना आईला



वरिष्ठ सहयोगी शिशिर शरण राही बुधवार को बिहार से लौट कर आए हैं। उनके जयपुर में प्रवेश करते ही चक्रवात अन्ना आईला का कुछ अंश भी गया है। पूरे शहर में गर्मी का प्रकोप दिन भर रहा लेकिन उनके ऑफिस में घुसते ही मौसम सुहाना हो गया। रात तक तो बारिश भी हो गई। ठंडी हवाएं भी चलने लगी। बिजली कड़कने लगी। रोज ऑफिस से जल्दी जाने वाले अन्ना (शिशिर जी का ऑफिशियल नाम) बारिश की वजह से ऑफिस में ही रुक गए। पूरे समय वर्तमान राजनीति की चर्चा करने वाले शिशिर जी आज अगाथा संगमा का बखान नहीं करते थक रहे थे। मेरी शादी की बात तक कर डाली अगाथा के साथ। खैर जानें दीजिए ये भी मजाक-मजाक में कुछ भी कह डालते हैं। पूरे ऑफिस में उनके आने से एक नई ऊर्जा रौनक फैली हुई थी।

1 comment:

  1. ब्लॉग पर अन्ना को famous कर रहे हो भाई

    ReplyDelete