Thursday 28 May 2009

कुछ उम्मीद कर सकते हैं क्या?

इस बार मंत्रिमंडल में बहुत से युवा नेताओं को मौका मिला है। उनके साथ अनुभवी व राजनीति के पुराने दिग्गज साथी भी है। राहुल की नई रणनीति से भाजपा इस चुनाव में धराशायी तो हो ही गई व आश्चर्यचकित भी है। इसी तरह क्या अब आम जनता खासतौर से युवावर्ग इस नई युवा राजनीतिक टीम से कुछ उम्मीद कर सकती है क्या? क्या राहुल, अगाथा, सचिन, जितिन व उनके जैसे और सभी युवा नेता हमारे पुराने नेताओं को देश के विकास के लिए नई तकनीकि और शिक्षा संस्थानों के बारे में सलाह देकर उनका क्रियान्वन करवा पाएंगे। इस बार सरकार में बहुमत एक ही पार्टी की है इसलिए हो सकता है वरिष्ठ नेता अपने युवा साथियों की बात मानें। ये भी हो सकता है कि हमारी नई टीम उन्हें अपनी बातें मनवा सकने में सफलता हासिल करे। मेरे मन में इस तरह के कई प्रश्न हैं पर उन्हें मैं सही भाषा में पिरोकर हमलोगों के इस माध्यम से प्रेषित नहीं कर पा रहा हूं। आप सभी ब्लॉगर बंधुओं से निवेदन है कि अगर कोई माध्यम हो जिससे की युवा मन के सवाल इन युवा नेताओं के पास जा सके तो कृपया इन्हें आगे बढ़ाए...

1 comment:

  1. posting a link just coz seems ur thoughts r sincere.. u really wanna c a change and do something to bring this change otherwise ppl r more concerned about IPL, Valentine days, and next friday movie s report..
    zaruri nahi isse padna par agar chaho to parivartan lane ki ek soch ek disha ka jayaza le sakte ho..
    http://mandi-house.blogspot.com/2009/04/blog-post_15.html

    ReplyDelete